Saturday, May 25, 2024
HomeAstrologyदिवाली पर लक्ष्मी पूजा में वास्तु का कैसे रखें ध्यान ??

दिवाली पर लक्ष्मी पूजा में वास्तु का कैसे रखें ध्यान ??

दिवाली पर लक्ष्मी पूजा के लिए वास्तु नियम

  • दिवाली पर लक्ष्मी पूजा का पूर्ण फल तभी मिलता है जब इसे उचित तरीके से और कुछ नियमों का पालन किया जाए।
  • पूजा स्थल को दरवाजे के सीध में न रखें।
  • दरवाजे से ज्यादा दूरी रखने से सफलता ज्यादा मिलती है।
  • गोल खम्भों पर मंदिर का निर्माण करें।
  • मूर्तियों को न रखें और न ही कोई सामान फर्श पर रखें।
  • कुछ लोग घर के मध्य भाग को पूजा के लिए अच्छा मानते हैं, लेकिन पूजा बीच से दूर कर देनी चाहिए।
  • अगर दीवाली की पूजा दक्षिण-पूर्व दिशा में तीन दिन तक मोमबत्ती, ज्योति हवन आदि जलाकर की जाती है।
    बेशक फायदा होता है।
  • घर के उत्तरी हिस्सों में केवल एक बर्तन में पानी और फूलों से पूजा करने से लाभ होता है। यहां केवल नाम मात्र की लौ जलानी चाहिए। यहां पूजा न करें।
    यहां बैठकर पूजा करने से कठिन और कठिन कार्यों में भी सफलता मिलती है।
  • लंबी उम्र दी जाती है और अच्छी सोच और समझ का जन्म होता है।

दिवाली पर लक्ष्मी पूजा के लिए वास्तु नियम तो जान लिए है लेकिन पहले आप जांच लें कि उत्तर-पश्चिम में कोई वास्तु दोष तो नहीं है। यदि भवन के पीछे भवन का दक्षिण-पश्चिम भाग ऊँचा हो, मन्दिर हो, चबूतरा या चबूतरा हो तो ग्रह स्वामी धनवान होता है। ऐसे स्थान पर पूजा करने से दीपावली पर धन और लक्ष्मी के प्रवेश के साधन वास्तव में एकत्रित होते हैं।

 

दिवाली पर लक्ष्मी पूजा कैसे करनी है इसकी पूरी विधि जान ले 

  • उत्तर-पूर्वी भाग में फूल, गंगाजल, इत्र, गुलाब जल आदि से पूजा करने से बहुत लाभ होता है।
  • घर के उत्तरी भाग में कम से कम समय के लिए ज्योति-बाटी जलाएं।
  • लंबे समय तक दक्षिण-पूर्व में मोमबत्ती जलाएं।
  • दीपावली पूजा के स्थान पर आम के फल रखें।
  • हो सके तो दरवाजे पर आम के पत्तों का बंदना लगाएं।
  • बाथरूम, शौचालय के दरवाजे बंद कर दें या इसे पर्दे से ढक दें।
  • रसोई में दिवाली की पूजा न करें।
  • रसोई में नकली बर्तन व सिंक व सीवर ड्रेन की गंदगी बनी हुई है।
  • पूजा से उत्पन्न समस्त धन और लक्ष्मी का फल इसी नाले से बहाया जाता है।
  • घर को साफ सुथरा रखें। दरवाजे से पूजा स्थल तक का रास्ता साफ होना चाहिए, कुछ सामान फर्श पर नहीं बिखरना चाहिए।
  • घर में पूरी रोशनी होनी चाहिए।
  • घर में झूमर आदि की विशेष सफाई करवाएं।
  • कुछ दिन पहले हो सके तो संतरे के छिलके का रस या नींबू का रस बिना नमक वाले पानी में मिलाकर फर्श को धो लें या पोंछ लें। ऐसा करने से आने वाले साधनों में वृद्धि होती है।

अब आप लक्ष्मी पूजा के नियम तो जान ही चूके है 

हमसे जुड़े रहने के लिए हमें फॉलो करे-ज्योतिष्प्रदीप पेज 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments